नमस्ते के बारे में और पढ़े

ये वीडियो देखने में तो मजाक सा लगता है पर बहुत से लोगो के जीवन की कडवी सच्चाई को भी व्यक्त करता है| वो सच्चाई है कि हिंदी मीडियम से पढने वालो को क्या क्या मुश्किलें झेलनी पड़ती है|

आज कल इंग्लिश आना बहुत जरूरी हो गया है| अगर आपको इंग्लिश नहीं आती तो बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता है| पढाई में हिंदी-मीडियम के छात्रो की मुश्किलों के अलावा आज कल तो और भी बहुत सारे कारण है इंग्लिश सीखने के| आप होटल में जाओ तो इंग्लिश, आप सिनेमा देखने जाओ तो इंग्लिश| और तो और मम्मी पापा को बच्चो के स्कूल में जाने में भी हिचकिचाहट होती है अगर इंग्लिश ना आती हो तो| धीरे धीरे आत्मविश्वास कम होता जाता है|

तो मन में रह रह के ख़याल आता है की ENGLISH तो जरूर आनी चाहिए| अब इंग्लिश कैसे सीखे| कुछ लोग तो फिर से ENGLISH GRAMMAR की किताब उठा कर पढना शुरू कर देते है पर कुछ समय में ही मन भर जाता है और काम बीच में ही छूट जाता है| तो फिर क्या तरीका है इंग्लिश सीखने का?

अपने जीवन में मैंने कैसे इंग्लिश बोलना बेहतर किया वो मैंने यहाँ शेयर किया है : How I started speaking Fluent English in Two Months

मैंने जो तरीका अपनाया वो था Reading Newspaper Loudly to Improve Spoken English

इंग्लिश बोलने के साथ साथ अपने subjects को बेहतर समझने के लिए मैंने ये किया: How to study subjects in English and understand them better

इसके साथ साथ अब मुझे ये भी लगने लगा है कि इंग्लिश आना जरूरी तो है पर ये सोचना की वो ही सब कुछ है और उसके बिना हम बिलकुल सफल नहीं हो सकते ये भी ठीक नहीं है। English is important but not Everything

Read More

ये पोस्ट किन किन पर्श्नो का उत्तर है – This post can answer following questions:

learn english, how to learn english, how to learn english speaking easily, how to learn english in easy way, how to learn english easily, learn english speaking, english kharab hona, mujhe english nahi aati, english sikhne ka tarika, learn english hindi medium student,इंग्लिश कैसे सीखे, इंग्लिश स्पीकिंग